उत्तर प्रदेश : बच्चों को “हिन्दू राष्ट्र” बनाने की शपथ दिलाई गई!

6

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

उत्तर प्रदेश : बच्चों को “हिन्दू राष्ट्र” बनाने की शपथ दिलाई गई! कहां है प्रशासन? आज कल ईर्ष्या और द्वेष के क्रम में नए नए मत धरातल पर अवतरित हो रहे हैं। उनमें से एक ; रिर्पोट देखिए कि कैसे लोगों को आतंकवादी बनाने के लिए उकसाया जा रहे है!

UP: कैसे ‘चालाकी’ से स्‍कूल के बच्‍चों को दिलाई ‘To Kill’ की शपथ, जिसे बाद में सुदर्शन टीवी वाले सुरेश चव्‍हाणके ने किया ट्वीट
स्कूल के प्रिंसिपल ने कहा कि ऐसी किसी भी हिंसक विचारधारा का समर्थन करने का कोई सवाल ही नहीं है। हमें इस बात की जानकारी थी कि हमारे छात्रों को पार्क में ले जाया गया है, लेकिन यह नहीं पता था कि न्यूज चैनल के लोगों का मतलब शरारत करना होता है।

उत्तरप्रदेश के सोनभद्र के स्कूली बच्चों द्वारा विवादास्पद शपथ लेने का वीडियो वायरल होने के बाद हड़कंप मच गया है। इस वीडियो को निजी टीवी चैनल सुदर्शन न्यूज के सीईओ सुरेश चव्हाणके ने भी ट्वीट किया है।

सुदर्शन न्यूज के सीईओ सुरेश चव्हाणके द्वारा ट्वीट किये गए वीडियो में साफ़ देखा जा सकता है कि लाल रंग के स्कूल ड्रेस में कुछ बच्चे शपथ लेते हुए दिखाई दे रहे हैं। शपथ लेने के दौरान बच्चे यह कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि वचन देते हैं, संकल्प लेते हैं, अपने अंतिम प्राण के क्षण तक इस देश को हिंदू राष्ट्र बनाने के लिए, बनाए रखने के लिए, आगे बढ़ाने के लिए लड़ेंगे, जरूरत पड़ी तो मारेंगे। किसी भी बलिदान के लिए किसी भी कीमत पर एक क्षण भी पीछे नहीं हटेंगे। हमारा यह संकल्प पूरा करने के लिए हमारा गुरुदेव, हमारे कुलदेवता, हमारे कर्मदेवता, भारत माता हमको शक्ति दे।

इस दौरान बच्चों ने भारत माता की जय और वंदे मातरम जैसे नारे भी लगाए। सुदर्शन न्यूज के सीईओ सुरेश चव्हाणके द्वारा ट्वीट किये गए वीडियो में छोटे बच्चे भी दिखाई दे रहे हैं। इस वीडियो में दिखाई दे रहे बच्चे उत्तरप्रदेश के सोनभद्र जिले के राबर्ट्सगंज के विमला इंटर कॉलेज के हैं। इस मामले को लेकर जब समाचार पत्र टेलीग्राफ ने विमला इंटर कॉलेज के मैनेजर से संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि कुछ लोग अपने को सुदर्शन न्यूज के कर्मचारी बताकर स्कूल में आए थे और उन्होंने एक टीवी कार्यक्रम के लिए बच्चों को पार्क में ले जाने की बात कही थी।

इंटर कॉलेज के मैनेजर जितेंद्र सिंह ने कहा कि बीते दिनों मैंने स्कूल के गेट पर कुछ लोगों को छात्रों से बात करते देखा। मैंने उनलोगों से पूछताछ की तो उन्होंने कहा कि वे सुदर्शन न्यूज से हैं और वे राष्ट्र धर्म पर एक बहस कराना चाहते हैं। मैंने टेलीविजन पत्रकारों को आम लोगों का साक्षात्कार करते देखा था, इसलिए मैंने कोई आपत्ति नहीं की। बाद में मुझे पता चला कि हमारे स्कूल के ग्यारहवीं कक्षा के पांच और बारहवीं कक्षा के पांच विद्यार्थी पार्क में थे।  रिर्पोट

वहीं स्कूल के प्रिंसिपल ने कहा कि ऐसी किसी भी हिंसक विचारधारा का समर्थन करने का कोई सवाल ही नहीं है। हमें इस बात की जानकारी थी कि हमारे छात्रों को पार्क में ले जाया गया है, लेकिन यह नहीं पता था कि न्यूज चैनल के लोगों का मतलब शरारत करना होता है।

वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस भी इस मामले की जांच में जुट गई है। जिले के अपर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार ने बताया कि मामला उनके संज्ञान है। यह कार्यक्रम एक निजी टीवी चैनल की ओर से आयोजित कराया गया था। पुलिस इस मामले की जांच पड़ताल में जुटी हुई है। वहीं जिले के एसपी अमरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है। जांच पूरी होने के बाद ही इसके बारे में उचित जानकारी दी जा सकेगी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.