Swami Prasad Maurya: स्वामी प्रसाद मौर्य ने छोड़ा बीजेपी , अब अखिलेश के साथ

7

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Swami Prasad Maurya political profile: स्वामी प्रसाद मौर्य ने जनता दल से अपना सियासी सफर शुरू किया था

UP Election: अभी खेला शुरू हुआ है…स्वामी प्रसाद मौर्य ने कर दिया इशारा, BJP को अभी और लगेंगे बड़े झटके!

Swami Prasad Maurya News

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh News) में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Election) से पहले भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका लगा है. स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya News) ने योगी कैबिनेट के साथ-साथ भाजपा से भी इस्तीफा दे दिया है. राज्यपाल को त्यागपत्र सौंपने के तुरंत बाद अखिलेश यादव संग उनकी एक तस्वीर आई, जिसमें सपा प्रमुख ने स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) के समाजवादी पार्टी में शामिल होने की पुष्टि की. स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) योगी सरकार में श्रम मंत्री थे. सपा में शामिल होते ही उन्होंने इशारा कर दिया कि भाजपा में बड़ी भगदड़ होने वाली है. स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya Joins SP) ने कहा कि अभी खेला शुरू हुआ है. 1-2 दिन में खेल का परिणाम आयेगा.

Swami Prasad Maurya

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh News) में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Election) से पहले भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका लगा है. स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya News) ने योगी कैबिनेट के साथ-साथ भाजपा से भी इस्तीफा दे दिया है. राज्यपाल को त्यागपत्र सौंपने के तुरंत बाद अखिलेश यादव संग उनकी एक तस्वीर आई, जिसमें सपा प्रमुख ने स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) के समाजवादी पार्टी में शामिल होने की पुष्टि की. स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) योगी सरकार में श्रम मंत्री थे. सपा में शामिल होते ही उन्होंने इशारा कर दिया कि भाजपा में बड़ी भगदड़ मचने वाली है. स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya Joins SP) ने कहा कि अभी खेला शुरू हुआ है. 1-2 दिन में खेल का परिणाम आयेगा.

भाजपा से नाता तोड़ने के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा भाजपा द्वारा उपेक्षा के कारण फैसला लेना पड़ा. मुझे कोई पछतावा नहीं है. सुबह ही मैं दिनेश शर्मा और बंसल जी से मिला. 1-2 दिन की अंदर इंतजार करिए. अभी तो खेला शुरू हुआ है, एक-दो दिन में खेल का परिणाम आएगा. उन्होंने आरोप लगाया कि मंत्रिमंडल मे तमाम बंदिशें थी, खुलकर काम नहीं करने दे रहे थे, हालांकि मेरे साथ ऐसी बात नहीं थी. उन्होंने कहा कि अफसरशाही की गलती नहीं होती है. ये लोग सीएम के इशारे पर काम करते हैं. नेता के नीति और नियम तय करते हैं कि अधिकारी कैसे काम करते हैं.

स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफे के बाद माना जा रहा है कि भाजपा को कई और बड़े झटके लग सकते हैं. सूत्रों की मानें तो आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी समेत 4 विधायक भी स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ समाजवादी पार्टी में जा सकते हैं. सूत्रों की मानें तो कानपुर देहात से बीजेपी विधायक भगवती प्रसाद सागर को स्वामी प्रसाद मौर्य के आवास पर देखा गया है. ऐसे में अटकलें लगाईं जा रही हैं कि वह भी स्वामी प्रसाद मौर्य की राह अपना सकते हैं. साथ ही मंत्री दारा सिंह चौहान भी भाजपा छोड़ सकते हैं. इतना ही नहीं, तिलहर से भाजपा विधायक रोशन लाल वर्मा भी सपा में जा सकते हैं. शाहजहांपुर के तिलहर से बीजेपी विधायक रोशन लाल खुद स्वामी प्रसाद मौर्य का इस्तीफा लेकर राजभवन पहुंचे थे. उन्होंने मौर्य की चिट्ठी दिखाते हुए कहा, ‘स्वामी जी का स्वास्थ्य ठीक नहीं था, इसलिए नहीं आए. हम इसके बाद इस्तीफा देंगे.’

Swami Prasad Maurya के बाद कई और विधायक छोड़ सकते हैं BJP

Swami Prasad Maurya के बाद कई और विधायक छोड़ सकते हैं BJP

Get real time updates directly on you device, subscribe now.