Saryu River Flood : सरयू नदी में क्या है बाढ़ की स्थिति

0 349

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Saryu River Flood : What is the flood situation in Saryu river

Saryu River Flood : सरयू नदी में क्या है बाढ़ की स्थिति

📍 दुबौलिया बाजार | Harraiya Times News Service

सरयू नदी ( Saryu River ) का जलस्तर धीरे-धीरे कम होने लगा है। संपर्क मार्गों व सिवानों से बाढ़ का पानी खिसकने लगा है। इससे ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है। जमीन दलदली होने के कारण कटान की आशंका बढ़ गई है। केंद्रीय जल आयोग अयोध्या ने बताया कि शनिवार को नदी का जलस्तर खतरे के निशान से 11 सेंटीमीटर ऊपर 92.88 मीटर दर्ज किया गया।

विक्रमजोत प्रतिनिधि के अनुसार ब्लॉक क्षेत्र के आपदा प्रभावित गांव भरथापुर, कल्यानपुर के संपर्क मार्ग से पानी हट रहा है। पड़ाव, चानपुर व संदलपुर में जमीन दलदली होने से ग्रामीणों को कटान का डर परेशान कर रहा है। बाढ़ खंड की ओर से कराए गए कटानरोधी कार्य धारा के साथ बहकर क्षतिग्रस्त हो गए हैं।

दुबौलिया ब्लॉक की क्या है स्थिति

दुबौलिया में बाढ़ प्रभावित गांवों में समस्या बनी हुई है। बाढ़ के पानी से घिरे गांव सुविखा बाबू, आंशिक टेढ़वा में अब भी नाव के सहारे जरूरतें पूरी हो रही हैं। खजांचीपुर का एक पुरवा, बिसुनदासपुर की अनुसूचित बस्ती के मजरों से बाढ़ का पानी निकल रहा है। पानी निकलने के बाद ग्रामीणों को संक्रामक बीमारियां फैलने का का डर सता रहा है। कटरिया-चांदपुर तटबंध व गौरा-सैफाबाद पर पानी का दबाव बरकरार है। पारा गांव के पास बैठे ठोकर की मरम्मत की जा रही है। एसडीओ हरिश्चंद्र ने बताया कि बैठे ठोकर पर मरम्मत कार्य कराया जा रहा है। स्थिति नियंत्रण में है।

चिकित्सा टीम ने वितरित किया दवाएं


सीएचसी प्रभारी डॉ. प्रभाकर चौधरी के नेतृत्व में शनिवार को कटरिया-चांदपुर तटबंध पर चिकित्सकों की टीम पहुंची। टीम ने बाढ़ प्रभावित लोगों में जरूरी दवाओं का वितरण कर कीटनाशक दवाओं का छिड़काव भी कराया। ब्लीचिंग पाउडर, पैरासीटामॉल, कैल्शियम व ओआरएस दिया गया। डॉ. प्रभाकर ने ग्रामीणों को मच्छरदानी का प्रयोग करने, उबालकर पानी पीने की सलाह दी।

बाढ़ के पानी से कटा संपर्क मार्ग , बहादुरपुर ब्लॉक

सरयू नदी के तटवर्ती गावों में बाढ़ का पानी फैला हुआ है। कुदरहा ब्लॉक के ग्राम पंचायत गोसैसीपुर जाने वाला मार्ग पानी भरने के कारण कट गया। सूचना मिलते ही विधायक रवि सोनकर मौके पर पहुंचे और बाड़ लगाकर कटान को रोकवाया। इसके बाद कटे स्थान को रोड़े से भरवाया। विधायक ने कहा कि पीडब्ल्यूडी की मदद से मार्ग को दोबारा ठीक कराया जाएगा। इस मौके पर मोहंती दुबे, रवि पांडेय, दुलारे, राजेंद्र उपाध्याय, सत्यराम, अनिल पासवान आदि मौजूद रहे

इसे भी पढ़े : Basti News Today बस्ती: नरकंकाल की पहचान के लिए डीएनए जांच कराएगी पुलिस, कैली हॉस्पिटल..

Get real time updates directly on you device, subscribe now.