प्रतापगढ़ से राजा भैया , विरूद्ध समाजवादी पार्टी से गुलशन यादव व् बीजेपी से सिंधुजा मिश्रा प्रत्याशी

14

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

प्रतापगढ़ से राजा भैया , विरूद्ध समाजवादी पार्टी से गुलशन यादव व् बीजेपी से सिंधुजा मिश्रा प्रत्याशी

UP Election 2022: यूपी विधानसभा चुनाव में राजा भैया के गढ़ कुंडा में सेंध लगाने के लिए बीजेपी ने सिंधुजा मिश्रा पर अपना दांव चला है, जो ‘गुंडा विहीन कुंडा’ के नारे के साथ सियासी मैदान में कूद गई हैं.

UP Election 2022: यूपी विधानसभा चुनाव में राजा भैया के गढ़ कुंडा में सेंध लगाने के लिए बीजेपी ने सिंधुजा मिश्रा पर अपना दांव चला है, जो ‘गुंडा विहीन कुंडा’ के नारे के साथ सियासी मैदान में कूद गई हैं. बीजेपी ने हाल ही में पूर्वांचल के प्रतापगढ़ की 7 सीटों में से 4 सीटों पर अपने उम्मीदवारों का एलान किया है. इनमें कुंडा सीट पर सियासी लड़ाई बेहद दिलचस्प होने जा रही है. जहां राजा भैया को टक्कर देने के लिए बीजेपी के टिकट पर सिंधुजा मिश्रा ताल ठोक रही हैं. 

राजा भैया को टक्कर देंगी बीजेपी की सिंधुजा

कुंडा पूर्वांचल की सबसे हॉट सीट मानी जाती है जिस पर राजा भैया का दबदबा रहा है. वो सात बार यहां से विधायक रह चुके हैं. वहीं दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी ने इस सीट से गुलशन यादव को टिकट देकर मुकाबले को बेहद दिलचस्प बना दिया है. इस बारे में जब एबीपी न्यूज ने सिंधुजा से बात की तो उन्होंने कहा कि कुंडा को गुंडा विहीन करना हमारा लक्ष्य है. हम राजा भैया के कब्जे वाली कोऑपरेटिव बैंक के चुनाव में उन्हें शिकस्त देकर बैंक छीन चुके हैं. हमारे पति शिव प्रकाश मिश्र सैनानी भी दो बार चुनाव लड़ चुके हैं. हमारी अलग से मतदाताओं के बीच मजबूत पकड़ है.

जानिए कौन हैं सिंधुजा मिश्रा

सिंधुजा मिश्रा मूल रूप से आजमगढ़ की रहने वाली हैं. लखनऊ यूनिवर्सिटी से उन्होंने एमए बीएड और एलएलबी की डिग्री हासिल की है. इसके साथ ही वो हाईकोर्ट में अधिवक्ता भी हैं. साल 2009 में सिंधुजा मिश्रा ने बीएसपी के टिकट से कोऑपरेटिव बैंक का चुनाव लड़ा था जिसमें उन्होंने राजा भैया के करीबी को हराया था. इसके बाद वो 2014 तक इस बैंक की अध्यक्ष रहीं. विश्वनाथ गंज से बीएसपी के टिकट पर सिंधुजा 2012 के विधानसभा चुनाव और 2014 में भी इस सीट पर हुए उपचुनाव को लड़ चुकी हैं लेकिन दोनों बार उन्हें हार का सामना करना पड़ा.

सिंधुजा के पति शिव प्रकाश मिश्र सैनानी भी दो बार राजा भैया के खिलाफ चुनाव लड़ चुके हैं. उन्होंने साल 2004 और 2012 में राजा भैया के खिलाफ चुनाव लड़ा था लेकिन उन्हें भी दोनों बार हार का सामना करना पड़ा.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.