Harraiya News: छावनी थानाक्षेत्र के पांवड गांव में गडहा और बंजर जमीन पर बने रिहायशी मकानों पर जेसीबी

5

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Harraiya News: उत्तर प्रदेश में अतिक्रमण कर बनाए गए निर्माणों को ढहाने की कड़ी में बस्ती स्थित हर्रैया में तहसील प्रशासन ने छावनी थानाक्षेत्र के पांवड गांव में गडहा और बंजर जमीन पर बने रिहायशी मकानों पर जेसीबी चलवाया. इसके बाद सरकारी जमीन पर कब्जेदारों में हड़कंप मचा हुआ है. 

तहसीलदार सतेन्द्र सिंह के नेतृत्व मे गाटा संख्या 336 व 337 के  गडहा और बंजर के रूप मे दर्ज जमीन पर बने तीन लोगो के अवैध निर्माण को जेसीबी ने ढहाया. बताया गया कि पावंड गांव के रामजियावन पुत्र झिनकान, सीताराम पुत्र विश्राम, दुर्गाप्रसाद पुत्र रामजग का पक्का मकान, टीनसेड और शौचालय को ढहाराय गया. इस दौरान गाँव में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा.

पावड गांव में बड़ी संख्या मे अभी भी  सरकारी जमीन पर अवैध निर्माण है. ऐसे लगभग 65 कब्जेदारों को चिन्हित किया जा चुका है.  हर्रैया तहसीलदार सतेंद्र सिंह ने चेतावनी दी  कि”कब्जेदार जल्द से जल्द  सरकारी जमीन खाली कर दें  नही तो और बडी कार्यवाही होगी.

लगभग 15 वर्ष पूर्व न्यायालय तहसीलदार हर्रैया के निर्देश पर पावड गांव में गढ्ढे एवं बंजर सहित सरकारी जमीन पर अतिक्रमण करने वाले 65 लोगों के खिलाफ कार्रवाई लम्बित थी. पांच कब्जदारों के खिलाफ उच्च न्यायालय में वर्षों मुकदमा चला. तत्पशचात उच्च न्यायालय इलााबाद द्वारा आदेश दिया गया जिसके अनुपालन में रविवार को लभगग 10:00 बजे तहसीलदार के नेतृत्व में राजस्व टीम जेसीबी के साथ पहुंची और अतिक्रमण कर बनाए गए पक्के मकानो को ढहाना शुरू कर दिया. इस कार्रवाई से गांव तथा आसपास के लोगो में हड़कंप मच गया.

वहीं नाम ना प्रकाशित ना करने की शर्त पर अधिकारी ने बताया कि पावड़ में एक पूरा घर गिरा है उनके पास दूसरा आवास है. दूसरे की सिर्फ बाउंड्री और तीसरे का शौचालय गिराया गया है.

कार्रवाई के दौरान नायब तहसीलदार कमलेन्द्र, कानूनगो रामनरेश, लेखपाल शुभमसेन शर्मा, कृष्णमुरारी सहित थानाध्यक्ष उमाशंकर त्रिपाठी, उपनिरीक्षक अनिल दूवे,उपनिरीक्षक रामसुबाष सहित बडी संख्या मे राजस्वकर्मी व पुलिस जवान मौजूद रहे. 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.