Basti: यूपी बोर्ड परीक्षा 2022 में नौ संवेदनशील व एक संवेदनशील कॉलेज को परीक्षा केंद्र नहीं बनाया गया

30

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  यूपी बोर्ड परीक्षा 2022 में नौ संवेदनशील व एक संवेदनशील कॉलेज को परीक्षा केंद्र नहीं बनाया गया है, वहीं पूर्व में नकल करते पकड़े गए कॉलेज इस साल भी परीक्षा केंद्र बनवाने से खासे नाराज थे. डीआईओएस की सख्ती के चलते कुख्यात केंद्र को पीछे छोड़ दिया गया है और सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए नया केंद्र बनाया गया है. वर्ष 2020 की बोर्ड परीक्षा में संवेदनशील व संवेदनशील की श्रेणी में शामिल केंद्रों पर परीक्षा कराने के लिए अतिरिक्त प्रशासकों की नियुक्ति करनी पड़ी थी.

यूपी बोर्ड की परीक्षा 24 मार्च से शुरू हो रही है। इस साल हाईस्कूल और इंटरमीडिएट समेत 52085 छात्रों के लिए 101 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. जबकि वर्ष 2020 में 48946 परीक्षार्थियों के लिए 76 केंद्र बनाए गए थे। परीक्षा की तैयारियों को लेकर दो दिन पूर्व प्रमुख सचिव के साथ हुई वीडियो कांफ्रेंसिंग में डीआईओएस अवधेश नारायण मौर्य ने कहा कि परीक्षा की अखंडता को बनाए रखने के लिए छात्रों की संख्या को ध्यान में रखते हुए 101 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. कोविड. इसमें एक भी परीक्षा केंद्र संवेदनशील व संवेदनशील की श्रेणी में शामिल नहीं है। जिले को 14 सेक्टरों में बांटकर परीक्षा केंद्रों पर 101 अतिरिक्त केंद्र प्रशासकों के साथ 101 केंद्र प्रशासकों की नियुक्ति की गई है।

परीक्षा केंद्रों की निगरानी जिला विद्यालय निरीक्षण कार्यालय में बने कंट्रोल रूम से की जाएगी। इसके अलावा राज्य सीधे निगरानी भी कर सकेगा। तीन मोबाइल टीमें भी बनाई गई हैं। परीक्षा के दौरान मोबाइल टीम भी सक्रिय रहेगी। वहीं नकल करते पकड़े गए कॉलेज इस साल केंद्र बनाने को लेकर चिंतित हैं। वर्ष 2020 की बोर्ड परीक्षा में 10 केंद्रों पर अपर केंद्र प्रशासक की नजर थी।