IAS Saumya Agarwal, DM Ballia, Biography, UPSC Rank, Posting Details, Biodata , Wikipedia, husband, Date of Birth

0 860

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

This story is about IAS Saumya Agarwal who cleared the UPSC examinations to become a part of the esteemed Civil Services in India. Saumya Agarwal’s journey is a strong motivation for all those who aspire to move ahead in their lives by choosing civil services. Read along to know about IAS Saumya Agarwal’s strategy, rank, and current posting.

IAS Saumya Agarwal is amongst the few people who left their existing professional lives to preparing full-time for the IAS exams. This requires serious dedication and effort since there is no turning back and there lies only one way ahead. Saumya succeeded in fulfilling the IAS dream and made a virtuous and respectable career for herself.

Saumya Agarwal Wiki

Saumya completed her early schooling education at Saint Mary’s Convent in Lucknow, Uttar Pradesh, after which she moved to Delhi University for her higher studies. After completing her degree, she finally got placed in a software-based company in Delhi. She further joined a private company in Pune in 2004. From this company, Saumya got the opportunity to move to London.

It was then that Saumya finally started to feel an absence in her life. She was bothered by staying away from her country and parents. She strongly intended to move back to India and do something for the people of her country. After having discussed with her father about jobs in India, Saumya Agarwal made up her mind to prepare for the Civil Services examination.

Saumya Agarwal Biography- The Journey for IAS


Saumya left her job in London after 2 years of working and finally moved back to India in 2006. She began her preparation for the UPSC examinations at her home in Lucknow. She also enrolled in a coaching class in Delhi for 3 months. After one year of dedicated efforts and preparation, Saumya appeared for the UPSC exam and cleared it in her first attempt.

Saumya secured an All India Rank of 24 in the UPSC exams and was appointed as an IAS officer. Saumya was then appointed as the Sub-Divisional Magistrate in Kanpur in 2008. She had finally achieved her IAS dream and had reached the contentment that she had always longed for in her professional life.

Saumya Agarwal IAS posting details

Saumya Agarwal IAS posted as DM- Basti, UP

DM Profile

Mr. Smt.Saumya Agarwal , IAS  Batch:- 2008 Cadre:-UP ,   ID:1229

Home Dist: Lucknow(UP)  Education: Graduate

Smt.Saumya Agarwal , 2008 batch IAS officer, has served as CDO, DM/Collector district MAHARAJGANJ, DM/Collector district UNNAO and  MD DBVVNL AGRA before joining as DM/Collector district Basti.

सौम्या अग्रवाल (Somya Agarwal), बस्ती डीएम, जीवन परिचय, फेसबुक, पोस्टिंग, यूपीएससी रैंक, विकिपीडिया

सौम्या अग्रवाल आगरा के रहने वाली हैं। सौम्या की शिक्षा लखनऊ ( lucknow) में पूरी हुई। उनके पिता ज्ञानचंद अग्रवाल रेलवे में सिविल इंजीनियर थे। वह तथा उनके परिवार आलमबाग की रेलवे कालोनी में रहते थे। वह हमेशा साइकिल से हीं स्कूल जाती थीं। सौम्या सेंट मैरी कांवेंट स्कूल से इंटरमीडिएट करने के बाद वह दिल्ली यूनिवर्सिटी में दाखिला ले ली परंतु अब भी सौम्या पढाई को गंभीरता से नहीं लेती थी।

Soumya Agrawal Overview

नामसौम्या अग्रवाल (Somya Agarwal)
सौम्या अग्रवाल आईएएस पति नाममोहित गुप्ता आईपीएस अधिकारी
डीएमबलिया जनपद
कैडर उत्तर प्रदेश
मूलनिवास आगरा जनपद
Past पोस्टिंग2021 ( बस्ती डीएम )
पोस्टिंग2022 ( Ballia DM )

सौम्या अग्रवाल आईएएस पति नाम

परिवार की बात करे तो सौम्या जी के पति श्री मोहित गुप्ता आईपीएस अधिकारी है और उनकी बड़ी बहन पूजा अग्रवाल ( Puja Agarwal) ने एमटेक करके अपनी कंपनी में नौकरी शुरू कर दी और उनकी छोटी बहन जया अग्रवाल ने बिजनेस इकोनोमिक्स में पढ़ाई पूरी की और वह भी प्राइवेट नौकरी करने लगीं।

सौम्या अग्रवाल बनी साफ्टवेयर इंजीनियर

वह दिल्ली में ही रह कर साफ्टवेयर इंजीनियर बन गईंं। उसके बाद साल 2004 में उन्हें पुणे की एक निजी कंपनी में नौकरी मिल गई। कुछ दिन तक वो पुणे में रही। उसके बाद कंपनी ने सौम्या को लंदन भेज दिया। वह अपने इस नौकरी से खुश नहीं थी, उन्हें हमेशा अपने देश की याद आती थी। मां-बाप से इतना दूर रहना उन्हें बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता था।

सौम्या अग्रवाल ने किया आइएएस बनने का फैसला

दो वर्ष की नौकरी में हीं सौम्या का कीबोर्ड पर ऊंगलियां कतराने लगीं और सौम्या उसकी टपटप से ऊब चुकी थीं। वह यह सारी बात अपने पिता को बताई और उनसे पूछा कि भारत में सबसे अच्छी नौकरी कौन सी हैं? सौम्या के पिता ने आइएएस (IAS) का नाम लिया। उसी समय सौम्या ने आईएएस करने का फैसला किया। साल 2006 में सौम्या नौकरी छोड़ भारत लौट आईं।

सौम्या अग्रवाल ने शुरू की आईएएस की तैयारी

लखनऊ में हीं सौम्या ने संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की तैयारी शुरू कर दी और तीन महीने के लिए उन्होंने दिल्ली के बाजीराव संस्थान में जरूर कोचिंग की। साल 2008 में उन्होंने पहले प्रयास में ही 24वां रैंक प्राप्त किया। नवनियुक्त आईएएस सौम्या अग्रवाल ने कानपुर मेंं एसडीएम का कार्यभार संभाल रही है।

सौम्या अग्रवाल ने पूरी की अपने दादा जी की इच्छा

सौम्या की बड़ी बहन पूजा अग्रवाल ( Puja Agarwal) ने एमटेक करके अपनी कंपनी में नौकरी शुरू कर दी और उनकी छोटी बहन जया अग्रवाल ने बिजनेस इकोनोमिक्स में पढ़ाई पूरी की और वह भी प्राइवेट नौकरी करने लगीं। सौम्या बताती हैं कि उनके दादाजी पीसी अग्रवाल ( Pisi Agarwal) पीडब्ल्यूडी (PWD)में नौकरी करते थे। वे हमेशा कहते थे कि एक बार यूपीएससी की परीक्षा जरूर देनी चाहिए। सौम्या कहती हैं कि उन्होंने उनकी ख्वाहिश पूरी कर दी।

Uttar Pradesh: सौम्या अग्रवाल बनी बस्ती की जिलाधिकारी, सीएम योगी ने 18 आईएएस अफसरों का किया तबादला

Uttar Pradesh: सौम्या अग्रवाल बनी बस्ती की जिलाधिकारी, सीएम योगी ने 18 आईएएस अफसरों का किया तबादला

Get real time updates directly on you device, subscribe now.