Harraiya News : राजघाट में बारिश के बाद पुल के नीचे होता है जल जमाव, उपजिलाधिकारी का घेराव कर सौंपा गया ज्ञापन

0 216

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

📍हरैया बस्ती | हरैया टाईम्स न्यूज़ सर्विस

बारिस होते ही इतना जलजमाव हो जाता है कि चौराहा तालाब के रूप में परिवर्तित हो जाता है जिससे तहसील, स्कूल, अस्पताल, बाजार आने जाने वाले लोगों को काफी समस्या होती है अतःहाइवे पुल के नीचे सडक उंची की जाय व जलनिकासी की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित हो।

संसारीपुर से विशेषरगंज जाने वाले मार्ग की हालत बहुत खराब है


संसारीपुर से गोकुलपुर जाने वाला दो-दो राष्ट्रीय राजमार्गों को जोडने वाला मार्ग बदहाल है जिससे क्षेत्र के महादेवरी, देवरी,मदही,पिनेसर,उभाई, गोकुलपुर सहित सैकड़ों गांव के लोगों को कापी समस्या होती है उक्त मार्ग को तत्काल सुदृढ़ कराया जाय।

महुघाट विशेषरगंज मार्ग


क्षेत्र के बडहर,बेलाडे, सहरायें, पौली,नदायें, नरायनपुर, निदूरी,बसडीला, अटवा,डुहरिया को जोडने वाले महूघाट विशेषरगंज मार्ग के लेपन कार्य में अनियमितता बरती गई है व सहरायें स्थिति एस.डी.चिल्ड्रेन एकेडमी व हाईवे से करीब एक किमी आगे बेलाडे मोड पर स्पीड ब्रेकर नहीं बनाया गया है।जिससे भविष्य में सडक के जल्दी खराब होने व मार्ग दुर्घटना की सम्भावना बनी हुई है इतना ही नहीं इसी सडक के साथ प्रस्तावित अमारी मार्ग व रेवरादास, काशीपुर होते हुए विशेषरगंज जाने वाल महूघाट विशेषरगंज मार्ग निर्माण में काफी शिथिलता व अनियमितता व्यापत है यहां त कि बिना पुरानी सडक को तोडे उसी के उपर गिट्टी डाला जा रहा है अतः उक्त सडकों के निर्माण में मानक का अनुपालन करते हुए निर्माण कार्य में तेजी लाई जाय व तय मानक अनुरूप लेपन कार्य व स्पीडब्रेकर का निर्माण कराया जाय तथा निर्माण कार्य के मानक का डिटेल उपलब्ध कराया जाय।


रामजानकी मार्ग स्थिति विशेषरगंज बाजार से भकरही,दावरिपारा होते हुए निदूरी स्कूल जाने वाला ढाई करोड की लागत से कागज निर्मित मार्ग धरातल से नदारद है।जिसकी जांच कराते हुए दोषियों पर कार्यवाही हो व सडक निर्माण कराया जाय।


उन्होंने कहा कि यदि उक्त समस्याओं का समाधान एक माह के अन्दर नहीं हुआ तो हम प्रार्थीगण तहसील परिसर में ही बेमियादी धरना प्रदर्शन को बाध्य होंगे।

बस्ती जिले में पूर्व निर्धारित ध्यानाकर्षण कार्यक्रम के क्रम में आज क्षेत्र के हजारों ग्रामीणों सं उपजिलाधिकारी कार्यालय का घेराव कर ग्यापन सौंपते हुए समाजसेवी चन्द्रमणि पाण्डेय(सुदामाजी)ने कहा कि वर्तमान में जनसामान्य की समस्याओं से न केवल जिम्मदारों का ध्यान हटा हुआ है जिससे जनता को काफी परेशानी का सामना करना पड रहा है अपितु जनसामान्य के हित में चल रहे कार्यों में मानक का खुला उल्लंघन हो रहा है जिसके सन्दर्भ में पूर्व में भी शिकायत दर्ज कराया जा चुका है किन्तु आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई जिससे जनता में रोष व्याप्त है।


उन्होंने पांच सूत्रीय ग्यापन सौंपकर मांग किया कि बरसात व मनोरमा के जलस्तर में वृद्धि के चलते क्षेत्र के उभाई, जगदीशपुर, गौहनिया, गोरथनियां, सिसई, भदासी सहित दर्जनों गांवों के सैकड़ों किसानों की हजारों एकड फसल जलमग्न होने के चलते किसानों की काफी फसलें क्षतिग्रस्त हो चुकी हैं जिसकी जांच कराते हुए अविलम्ब क्षतिपूर्ति दिलाया जाय।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.