मैं गैंगेस्टर का मुल्जिम हूं, मेरा एनकाउंटर ना किया जाए, मैं आत्मसमर्पण करता हूं

10

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

उत्तर प्रदेश में पुलिस का कितना खौफ अपराधियों में है, इसकी एकबानगी बस्ती जिले के कप्तानगंज थाने पर देखने को मिली, जहां पर एक अपराधी सफेद तख्ती लेकर सरेंडर कर दिया। तख्ती पर अपराधी ने लिखा कि ‘थानाध्यक्ष महोदय मैं गैंगस्टर का मुल्जिम हूं मेरा काउंटर न किया जाए, मैं आत्मसमर्पण करता हूं, मुझे गिरफ्तार करें’।

हैरान रह गए पुलिसकर्मी

अपराधी अपनी मां के साथ थाना परिसर में पहुंचा तो पुलिसकर्मियों सहित अन्य मौजूद लोगों को लगा कि शायद वह अपनी किसी मांग को लेकर थाने पर आ रहा है, लेकिन जब वह युवक करीब पहुंचा तो उसके हाथ में मौजूद तख्ती पर लिखे शब्दों को देख पुलिसकर्मी भी हैरान रह गए।

इस मामले में था वांछित बता दें कि बीते 21 अगस्त 2021 को बस्ती जिले के मुंडेरवा थाने की पुलिस ने 65 हजार लीटर अल्कोहल से भरा ट्रैक्टर को बरामद किया था। पुलिस की जांच पड़ताल में पता चला कि इस अवैध अल्कोहल का मास्टरमाइंड सरगना कप्तानगंज थाना क्षेत्र के महाराजगंज कस्बा निवासी हिस्ट्रीशीटर बबलू उर्फ फिरोज अहमद है। पुलिस की जांच में उसके साथी कप्तानगंज थाने के तेलियाडीह गांव निवासी चमन गुप्ता का नाम भी प्रकाश में आया। पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की है। मामले में वांछित चमन गुप्ता की गिरफ्तारी के लिए मुंडेरवा में पुलिस दबिश दे रही थी और अचानक सोमवार को चमन अपनी मां के साथ हाथ में तख्ती लिए थाने पहुंचा और कप्तानगंज पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.