Fraud-case-in-Basti: धोखाधड़ी से पैसा उड़ाने वाले गैंग के सदस्य हुए गिरफ्तार

0 725

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

बस्ती: पुरानी बस्ती पुलिस, सर्विलांस व एंटी नारकोटिक्स टीम की संयुक्त कार्रवाई में धोखाधड़ी कर रुपये उड़ाने वाले दो अंतरराज्यीय जालसाजों को गिरफ्तार किया है। जालसाज विनय कुमार सिंह ग्राम जरदाहा थाना पताही जिला मोतिहारी व धनंजय चौधरी निवासी ग्राम अमनपुर थाना पुपड़ी जिला सीतामढी-बिहार के रहने वाले हैं। पुलिस ने उनके पास से घटना के दौरान इस्तेमाल होने वाले स्कार्पियो को भी बरामद किया है। एक तमंचा और एक कारतूस भी बरामद किया गया है।

प्रभारी निरीक्षक पुरानी बस्ती ब्रजेंद्र प्रसाद पटेल के नेतृत्व में प्रभारी सर्विंलास सेल निरीक्षक विजय कुमार सिंह व प्रभारी एंटी नारकोटिक्स उप निरीक्षक योगेश कुमार सिंह टीम के साथ बुधवार को थाना पुरानी बस्ती में दर्ज धोखाधड़ी, कूट रचना के मुकदमे में वांछित की तलाश कर रहे थे। इसी बीच सूचना मिली कि गौरा पालीटेक्निक मार्ग पर बिहार प्रांत के नंबर वाली एक स्कार्पियो में दो संदिग्ध मौजूद हैं। पुलिस टीम ने पहुंचकर दोनो को गिरफ्तार कर लिया।

प्रभारी निरीक्षक पुरानी बस्ती ने बताया कि 17 अगस्त को जय केशरी निवासी मेंहदावल रोड पांडेय बाजार थाना पुरानी बस्ती ने तहरीर देकर बताया था कि उनका ट्रक हड़ियां चौराहे के निकट गोल्डन ट्रांसपोर्ट पर खड़ा था। उसी दौरान एक अंजान व्यक्ति आया और मोरंग का मोल-भाव करने लगा। 82 रुपये स्क्वायर फिट पर तय कर वह दुकान का नाम आरएसएस ट्रेडर्स मुंडेरवा बस्ती बताकर मोरंग लेकर चला गया। दूसरे दिन जब वह भेजे गए मोरंग का हिसाब करने पहुंचे तो पता चला कि दुकान पर कोई दूसरा व्यक्ति बैठा था। उसने बताया कि एक व्यक्ति उनसे 98,072 रुपये ले जा चुका है। पीड़ित ने बताया कि मोरंग गिराने से पहले जिस व्यक्ति ने उनसे बात की थी उसने उनके साथ धोखा किया है।

……..

गिरोह में शामिल हैं आधा दर्जन जालसाज

गिरफ्तार विनय कुमार सिंह ने बताया कि धनंजय चौधरी के अलावा उसके गिरोह में कुल छह लोग शामिल हैं। सभी बिहार के रहने वाले हैं। पकड़ी गई स्कॉर्पियो गाड़ी का नंबर बदल बदल कर आपराधिक वारदातों को अंजाम देते हैं। नौ अगस्त को सभी ने मिलकर हंडिया चौराहा से एक ट्रक मोरंग लेकर मुंडेरवा स्थित दुकान र गए। गाड़ी के चालक को धोखे में रखकर उसके साथ छल करके मोरंग की रकम लेकर चले गए थे। बताया कि चार अगस्त को उन्होनें नवीन सब्जी मंडी खलीलाबाद जनपद संतकबीरनगर से एक अर्टिगा गाड़ी 1,30,000 रुपये चोरी कर लिए थे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.