eshram.gov.in register.eshram.gov.in ई-श्रम कार्ड आवेदन फॉर्म E-Shramik Card Online Registration Form ई-श्रमिक कार्ड के लाभ

0 90

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

eshram.gov.in register.eshram.gov.in E-Shrmik Card Application Form, ई-श्रम कार्ड पंजीयन फॉर्म, E-Shrmik Card Registration Form, ई-श्रमिक कार्ड आवेदन फॉर्म, ई-श्रमिक कार्ड का आवेदन फॉर्म कैसे भरें, E-Shrmik Card Benefit, ई-श्रमिक कार्ड कैसे बनाये, E-Shrmik Card Online Apply, E-Shrmik Card Online Form, ई-श्रमिक कार्ड योजना

E-Shrmik Card Application Form, ई-श्रमिक कार्ड पंजीयन फॉर्म, E-Shrmik Card Registration Form, ई-श्रमिक कार्ड आवेदन फॉर्म, ई-श्रमिक कार्ड का आवेदन फॉर्म कैसे भरें, E-Shrmik Card Benefit, ई-श्रमिक कार्ड कैसे बनाये, E-Shrmik Card Online Apply, E-Shrmik Card Online Form, ई-श्रमिक कार्ड योजना
E-Shrmik Card Application Form – ई-श्रमिक कार्ड के लाभ

ई-श्रमिक कार्ड आवेदन फॉर्म:-

केंद्र सरकार द्वारा देश के सभी मजदूरो के लिए ई-श्रमिक कार्ड योजना को शुरू किया गया है ई-श्रमिक कार्ड योजना (E-Shrmik Card) को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा शुरू किया गया है साथ में योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रिकिर्या को शुरू करने के लिए E-shrmik Portel लांच किया गया है E-Shrmik Card के तहत असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले सभी मजदूरो को केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा सभी कल्याण कारी योजनाओ का लाभ दिया जायेगा.

E-Shrmik Card Yojana में निर्माण श्रमिकों, प्रवासी श्रमिकों, गिग और प्लेटफॉर्म श्रमिकों, स्ट्रीट वेंडरों, घरेलू श्रमिकों, कृषि श्रमिकों आदि सहित सभी असंगठित श्रमिकों (यूडब्ल्यू) का एक केंद्रीकृत डेटाबेस का निर्माण, आधार के साथ जोड़ा जाएगा आपको इस आर्टिकल में ई-श्रमिक कार्ड से समन्धित सभी प्रकार कि जानकारी को विस्तार से देगे जिसके लिए आप इस आर्टिकल को लास्ट तक जरुर पढ़े.

E-Shrmik Card Application Form:-

श्रमिक विभाग द्वारा देश के सभी मजदूरो को आर्थिक स्थिति में सुधार करने और मजदूरो को आत्मनिर्भर बनाने के उदेश्य से नई नई श्रमिक योजनाओ को शुरू किया जा रहा है जिनका लाभ देश के असंगठित क्षेत्र व संगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले सभी मजदूरो को दिया जायेगा ई-श्रमिक कार्ड योजना के तहत असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले 38 करोड़ मजदूरो को योजना का लाभ दिया जायेगा.

असंगठित श्रमिकों के लिए सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का एकीकरण जो श्रम एवं रोजगार मंत्रालयद्वारा प्रशासित किया जा रहा है और तदनंतर अन्य मंत्रालयों द्वारा भी चलाए जा रहे हैं जिन श्रमिको को आयु 16 वर्ष से 59 वर्ष के बिच है वो सभी मजदुर ई-श्रमिक कार्ड बनाने के लिए ई-श्रम पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा सकते है.

E-Shrmik Card Registration Form Hilight

योजनाई-श्रमिक कार्ड योजना आवेदन फॉर्म
उदेश्यअंसगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले मजदूरो कि आर्थिक स्थिति में सुधार लाना
लाभार्थीदेश के सभी मजदुर (श्रमिक)
लाभमनरेगा, श्रमिक योजना जीवन ज्योति योजना, स्वास्थ्य बिमा, पेंशन योजन, आवास योजना
योजना शुरू19 अगस्त 2021
एप्लीकेशन फीसआवेदन शुल्क 000 रु.|
आवेदन फॉर्म शुरू26 अगस्त 2021
आवेदन प्रिकिर्याऑनलाइन आवेदन
अपडेट2021-22
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://eshram.gov.in/hi

ई-श्रमिक कार्ड और श्रमिक कार्ड में अन्तर:-

केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा देश के असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले मजदूरो कि आर्थिक स्थिति को मजबूत करने के लिए श्रमिक योजनाओ को शुरू किया जा रहा है जिसमे ई-श्रमिक कार्ड केंद्र सरकार द्वारा शुरू कि गई एक मजदुर योजना है और श्रमिक कार्ड राज्य सरकार द्वारा शुरू कि गई योजना है जिसमे श्रमिक कार्ड योजना का लाभ राज्य के स्थाई निवासी मजदूरो को दिया जाता है वही ई-श्रमिक कार्ड का लाभ देश के सभी मजदूरो को दिया जायेगा जिन मजदूरो कि आयु 16 से 59 वर्ष के बिच है वो सभी मजदुर e-Shrmik Card बनाने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते है.

ई श्रमिक कार्ड क्या है:-e Shramik Card Kyaa hai:-

ई-श्रम कार्ड पंजीयन 2021- हाल के अपडेट के अनुसार ई श्रम कार्ड देश के सभी राज्यों में सम्पूर्ण रूप से लागू कर दिए गए है साथ में e-SHRAM CARD list भी जारी कर दी गई है जैसा कि हमने आपको इस आर्टिकल में ई-श्रम कार्ड ऑनलाइन पंजीयन के बारे में बताया था वैसे ही हमने e-श्रम कार्ड लिस्ट (सूचि) के लिए भी अपडेट कर दिया है अब आप अपने राज्य वाइज e-SHRAM लिस्ट देख सकते है तो चलिए जानते है ई-श्रम कार्ड कैसे बनाए व कैसे ई-श्रम कार्ड लिस्ट आदि सम्पूर्ण जानकारी विडियो सहित |

ई-श्रमिक कार्ड पंजीयन फॉर्म:-

केंद्र सरकार द्वारा देश के मजदुरो के लिए ई श्रमिक कार्ड स्कीम को लांच किया गया है जिसमे सभी मजदूरो को योजना का लाभ लेने के लिए हर एक मजदुर का ई श्रमिक कार्ड बनाया जायेगा इस योजना के तहत सभी मजदुर 26 अगस्त 2021 से ऑनलाइन आवेदन कर सकते है इस योजना के तहत मजदूरो को श्रमिक योजनाओ का लाभ दिया जायेगा. श्रम और रोजगार मंत्रालय ने असंगठित कामगारों का एक राष्ट्रीय डेटाबेस बनाने के लिए ई-श्रम पोर्टल विकसित किया है

जिसे आधार के साथ जोड़ा जाएगा. इसमें नाम, व्यवसाय, पता, शैक्षिक योग्यता, कौशल स्वरूप और परिवार इत्यादि का विवरण होगा ताकि उनकी रोजगार क्षमता का इष्टतम उपयोग हो सके और उन तक सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के लाभों का विस्तार किया जा सके. आपको इस आर्टिकल में e-Shrmik Card ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रिकिर्या, लाभार्थी लिस्ट, ई-श्रमिक कार्ड योजना, पात्रता, लाभ उदेश्य और दतावेज कि जानकारी को स्टेप वाइज दिया गया है जिससे आप आसानी से e-Shrmik Card बनाने के लिए ऑनलाइन अप्लाई कर सकते है.

ई-श्रमिक के लाभ:-(e-Sharmik Card Ke labh)

  • प्रधानमंत्री श्रम योगी मान-धन पेंशन योजना – इस योजना के तहत लाभार्थी कि आयु 60 वर्ष हो जाने के बाद हर महीने 3,000 रूपये कि पेंशन दी जाएगी.
  • प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (पीएमजेजेबीवाई) – इस योजना के तहत पंजीकर्त मजदुर कि किसी कारण या किसी कार्य के दोरान म्रत्यु हो जाने पर 2 लाख रूपये कि सहायता राशी दी जाएगी.
  • प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (पीएमएसबीवाई) – योजना के अंतर्गत मजदुर कि आकस्मिक मृत्यु और पूर्ण विकलांगता के लिए 2 लाख रुपये और रुपये दिए जाते है और आंशिक विकलांगता के लिए 1 लाख कि सहायता राशी दी जाती है.
  • अटल पेंशन योजना – अंशदाता अपनी मर्जी से 1000-5000 रुपये की पेंशन प्राप्त कर सकता है, या वह अपनी मृत्यु के बाद पेंशन की संचित राशि भी प्राप्त कर सकता है.
  • सार्वजनिक वितरण प्रणाली (PDS) – हर महीने 35 किलो चावल या गेहूं, जबकि गरीबी रेखा से ऊपर का परिवार मासिक आधार पर 15 किलो अनाज का हकदार है. प्रवासी श्रमिकों को जहां भी वे काम कर रहे हैं खाद्यान्न प्राप्त करने में सक्षम बनाने के लिए वन नेशन वन राशन कार्ड (ओएनओआरसी) के रूप में लागू किया जा रहा है.
  • प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण (पीएमएवाई-जी) – योजना के तहत लाभार्थी को पक्का घर बनाने के लिए मैदानी क्षेत्रों में 1.2 लाख रुपये की सहायता और रु. पहाड़ी क्षेत्रों में 1.3 लाख तक आर्थिक सहायता राशी दी जाएगी.
  • राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम (एनएसएपी) – वृद्धावस्था संरक्षण – केंद्रीय अंशदान @ 300 रुपये से 500 रुपये विभिन्न आयु वर्ग के लिए। राज्य सरकार के योगदान के आधार पर मासिक पेंशन 1000 रुपये से 3000 रुपये दी जाएगी.
  • आयुष्मान भारत-प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY) – 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य कवरेज. माध्यमिक और तृतीयक देखभाल अस्पताल में भर्ती के लिए प्रति परिवार प्रति वर्ष 5 लाख रुपये मुफ्त इलाज करा सकते है.
  • राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी वित्त और विकास निगम (NSKFDC) – यह योजना सफाई कर्मचारियों, हाथ से मैला ढोने वालों और उनके आश्रितों को एससीए/आरआरबी/राष्ट्रीयकृत बैंकों के माध्यम से स्वच्छता संबंधी गतिविधियों सहित और भारत और विदेशों में शिक्षा के लिए किसी भी व्यवहार्य आय सृजन योजना के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है.
  • हाथ से मैला उठाने वालों के पुनर्वास के लिए स्वरोजगार योजना (संशोधित) – राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी वित्त एवं विकास निगम (एनएसकेएफडीसी) द्वारा समय-समय पर आयोजित ऐसे प्रशिक्षणों की सूची से हाथ से मैला उठाने वाले और उनके आश्रितों को उनकी पसंद का कौशल प्रशिक्षण नि:शुल्क प्रदान किया जाएगा. रुपये का मासिक वजीफा 3000/- (केवल तीन हजार रुपये) या समय-समय पर तय की जाने वाली कोई भी राशि एनएसकेएफडीसी द्वारा प्रेषित की जाएगी.
  • दुकानदारों, व्यापारियों और स्व-नियोजित व्यक्तियों (एनपीएस-व्यापारी) के लिए राष्ट्रीय पेंशन योजना – योजना के तहत लाभार्थी 60 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद 3000/- रुपये की न्यूनतम मासिक सुनिश्चित पेंशन प्राप्त करने के पात्र हैं.
  • बुनकरों के लिए स्वास्थ्य बीमा योजना (एचआईएस) – लाभार्थी 15,000 रुपये के पैकेज का लाभ उठाएंगे जिसमें पहले से मौजूद बीमारियां और नई बीमारियां दोनों शामिल हैं. चिकित्सा शर्तों के अनुसार राशि के वितरण के मामले में विभाजन इस प्रकार है- मातृत्व लाभ (पहले दो के लिए प्रति बच्चा) – 2500 रुपये, नेत्र उपचार – 75 रुपये, चश्मा – 250 रुपये, घरेलू अस्पताल में भर्ती- 4000 रुपये, आयुर्वेदिक / उन्नानी/होम्योपैथिक/सिद्ध- 4000 रुपये, अस्पताल में भर्ती (प्री और पोस्ट सहित)- 15000 रुपये, बेबी कवरेज-500, ओपीडी और प्रति बीमारी की सीमा- 7500 रुपये स्वास्थ्य बिमा दिया जाता है.

ई-श्रमिक कार्ड योजना:-(E-Shrmik Employment Schemes Benefites):-

  • मनरेगा:- योजना के तहत आवेदक प्रति परिवार प्रति वर्ष 100 दिनों की सीमा के अधीन, 15 दिनों के भीतर काम करने का हकदार है. नियम और नीतियों के अनुसार वेतन दर में संशोधन किया गया है. योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी कि आयु 18 वर्ष से अधिक होना जरुरी है.
  • दीन दयाल उपाध्याय– ग्रामीण कौशल्य योजना:- ग्रामीण कौशल्य योजना (DDU-GKY) का उद्देश्य गरीब ग्रामीण युवाओं को कौशल प्रदान करना और उन्हें नियमित मासिक मजदूरी या न्यूनतम मजदूरी से ऊपर की नौकरी प्रदान करना है. योजना के अंतर्गत 15 से 35 वर्ष की आयु के बीच के व्यक्ति प्रशिक्षण कार्यक्रमों के लिए पात्र हैं. और महिलाओं और अन्य कमजोर समूहों जैसे निःशक्त व्यक्तियों के लिए, ऊपरी आयु सीमा में छूट देकर इसे 45 वर्ष किया गया है.
  • दीन दयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना:- इस योजना का उद्देश्य गरीबों को वित्तपोषण और सहायता प्रदान करके कौशल और स्व-व्यवसाय को बढ़ाना है योजना के तहत कौशल संबंधी प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु इच्छुक कोई भी भारतीय नागरिक आवेदन कर सकता है.
  • पीएम स्वनिधि:- इस योजना को शुरू करने का मुख्य उदेश्य लाभार्थी को 10,000 रुपये तक कार्यशील पूंजी ऋण की सुविधा प्रदान करना है. योजना के तहत फेरीवाले जिनके पास शहरी स्थानीय निकायों (ULB) द्वारा जारी किए गए वेंडिंग प्रमाण-पत्र/ पहचान-पत्र हैं और फेरीवाले, जिनकी सर्वेक्षण में पहचान की गई है, लेकिन उन्हें वेंडिंग प्रमाण-पत्र/ पहचान पत्र जारी नहीं किया गया है वो सभी योजना के तहत पात्र होगे.
  • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना:- इस योजना क तहत युवाओं के लिए उपलब्ध कौशल मार्ग पर अवगत विकल्प बनाने के लिए एक पारिस्थितिकी तंत्र सृजित करना है जिसमे कौशल प्रशिक्षण और प्रमाणन के लिए युवाओं को सहायता प्रदान कि जाएगी साथ में निजी क्षेत्र की अधिक से अधिक भागीदारी के लिए स्थायी कौशल केंद्रों को प्रोत्साहित करना है.
  • प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम:- श्रम विभाग द्वारा नए उद्यम स्थापित करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करने हेतु योजना को शुरू किया गया है इस योजना का लाभ लेने के लिए विनिर्माण क्षेत्र में 10 लाख रुपये और व्यापार/सेवा क्षेत्र में 5 लाख रूपये से अधिक लागत वाली परियोजनाओं में कार्य करने हेतु कम से कम आठवीं कक्षा उत्तीर्ण होना जरुरी है. और आवेदन करने वाले आवेदक कि आयु 18 वर्ष से अधिक होना जरुरी है.

E-Shrmik Card Documents:- ई-श्रमिक कार्ड के लिए जरुरी दस्तावेज:-

  1. श्रमिक का आधार कार्ड
  2. आवेदक कि बैंक खाता पास बुक
  3. आवेदक का मोबाइल नंबर
  4. मजदुर का आयु प्रमाण पत्र
  5. आवेदक का पासपोर्ट साईज का फोटो आदि दस्तावेज से आप ईश्रमिक कार्ड के लिए आवेदन कर सकते है.

Eshram.gov.in FAQs

ई-श्रमिक कार्ड कि वैधता कितनी है?

यह एक स्थाई सख्या है जो जीवन भर मान्य होगी.

क्या ई श्रमिक कार्ड नवीनीकरण करना होगा?

प्रदान किए गए ईश्रम कार्ड के नवीनीकरण की कोई आवश्यकता नहीं है कामगार नियमित रूप से अपना विवरण, मोबाइल नंबर, वर्तमान पता आदि अपडेट कर सकते हैं. अपने खाते को सक्रिय रखने के लिए वर्ष में कम से कम एक बार अपना खाता अपडेट करना आवश्यक है.

एनसिओ क्या है?

यह कार्य की प्रकृति और कार्य को निष्पादित करने के लिए आवश्यक कौशल स्तर के आधार पर तैयार किए गए व्यवसाय का राष्ट्रीय वर्गीकरण है। यह एक अंतर्राष्ट्रीय पद्धति है तथा पूरे देश में एक समान है। व्यवसायों तथा कौशल स्तरों की तुलना, वर्गीकरण व श्रेणीबद्ध करने में यह सहायक है.

क्या किसान ई-श्रमिक कार्ड बनाने के लिए पात्र है?

केवल कृषि श्रमिक और भूमिहीन किसान ही eSHRAM पोर्टल पर पंजीकरण के लिए पात्र हैं अन्य किसान पात्र नहीं हैं.

ई श्रमिक कार्ड बनाने के लिए कितने शुल्क भुगतान करना होता है?

केंद्र सरकार द्वारा ई श्रमिक कार्ड बनाने के लिए किसी भी तरह कि फीस नही रखी गई है आप ई-श्रमिक पोर्टल के माध्यम से फ्री में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते है.

ई-श्रमिक कार्ड बनाने के लिए आयु सीमा कितनी है

16 से 59 के बिच.

ई श्रमिक कार्ड बनाने के लिए कहा रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

देश के सभी मजदुर ई श्रम पोर्टल पर ई श्रमिक कार्ड बनाने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते है.

ई श्रमिक कार्ड कितने साल बाद रिन्यू करना होता है?

ई श्रमिक कार्ड एक जीवन भर के लिए मान्य दस्तावेज है जिसे मजदुर को हर वर्ष ई श्रम पोर्टल पर अपडेट करना होगा.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.