Dowry Case : दहेज में कार न मिलने पर नहीं आई बारात, मुकदमा

7

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Dowry Case : दहेज में कार न मिलने पर नहीं आई बारात, मुकदमा

जिले के वाल्टरगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में दहेज में कार की डिमांड को लेकर बारात लाने से मना कर देने का मामला सामने आया है। शादी के दिन बारात के इंतजार में जुटे वधू पक्ष ने देर होने पर वर पक्ष से संपर्क साधा। आरोप है कि दूल्हे के भाई ने दहेज में कार मिले बिना बारात लेकर आने से इनकार कर दिया। थानाध्यक्ष वाल्टरगंज योगेश सिंह ने बताया कि दूल्हा समेत आधा दर्जन लोगों के खिलाफ डीपी एक्ट व धोखाधड़ी का मुकदमा कायम कर छानबीन शुरू कर दी गई है।

वाल्टरगंज थाना क्षेत्र के रहने वाले एक व्यक्ति ने अपनी बेटी की शादी गोंडा जनपद के गौरा चौकी निवासी रघुनाथ के साथ तय की थी। 17 मई को शादी की तारीख पड़ी थी। दुल्हन के पिता ने तहरीर देकर बताया है कि 17 मई को शादी की पूरी तैयारी हो गई। रात करीब साढ़े दस बजे तक बारात न पहुंचने पर दूल्हे के भाई से संपर्क साधा गया। आरोप है कि उसने दहेज में कार मिले बिना बारात लेकर आने से मना कर दिया और मोबाइल स्विच ऑफ कर लिया।

बारातियों के स्वागत के लिए जलपान, भोजन से लेकर अन्य तैयारियों पर करीब ढाई लाख रुपये खर्च हुआ था जो बारात न आने से डूब गया। वर पक्ष पर तिलक में चढ़ाया गया पैसा हड़पने का भी आरोप है। पुलिस ने दूल्हे के अलावा उसके भाई भूपमणी, बहन सीमा, जीजा, बुआ और फूफा के खिलाफ डीपी एक्ट व 420 आईपीसी के तहत केस दर्ज कर जांच एसआई मिर्जा वहीद बेग को सौंपी है।

Read also : UP Board : गैर मान्यता वाले 44 विद्यालयों को दूसरी नोटिस जारी

Get real time updates directly on you device, subscribe now.