Corruption-in-Basti : कार्यालय वजूद में नहीं और अधिकारियों की हो गई तैनाती

27

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Corruption-in-Basti : कार्यालय वजूद में नहीं और अधिकारियों की हो गई तैनाती

बिजली विभाग में कार्यालय वजूद में आए बिना ही वहां के लिए अधिकारियों की तैनाती कर दी गई। बस्ती जनपद में चार नए सब डिवीजन बनाए जाने का प्रस्ताव बनाकर पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम वाराणसी को भेजा गया था। अधीक्षण अभियंता आरबी कटियार का कहना है कि उपभोक्ताओं की संख्या के मानक के अनुसार चार सब डिवीजन बनाया जाना है। निगम से अभी तक नए सब डिवीजन खोलने के लिए अनुमति नहीं मिल सकी है।

बिजली विभाग में वर्तमान में कुल चार डिवीजन हैं। हर डिवीजन में दो-दो सब डिवीजन है। उपभोक्ताओं की बढ़ती हुई संख्या को देखते हुए शासन के निर्देश पर जिले में चार सब डिवीजन और खोले जाने का प्रस्ताव तैयार कर निगम को भेजा गया है। लगभग एक साल से ज्यादा समय से यह मामला निगम में लटका हुआ है। जानकारों का कहना है कि निगम की ओर से प्रस्तावित सब डिवीजन को देखते हुए जिले में सहायक अभियंताओं की तैनाती कर दी गई है।

यह अभियंता अधीक्षण अभियंता बस्ती कार्यालय से संबद्ध हैं। अधिकारियों की तैनाती तो कर दी गई, लेकिन सब डिवीजन अभी धरातल पर कहीं नहीं है। अगर सब डिवीजन की संख्या बढ़ा दी जाए तो इससे जहां अधिकारियों पर काम का बोझ कम होगा, वहीं उपभोक्ताओं को भी इसका लाभ मिलेगा। उनके क्षेत्र की समस्याओं का त्वरित निदान हो सकेगा।

– ग्रामीण उपभोक्ताओं की संख्या-358810

– शहरी उपभोक्ताओं की संख्या- 36624

Get real time updates directly on you device, subscribe now.