Basti News: बस्ती में इन 8 बड़े अतिक्रमणों पर चलेगा बुलडोजर

10

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

 बस्ती.  उत्तर प्रदेश स्थित बस्ती में सरकारी बुलडोजर और जेसीबी चल सकती है.  के बाद जिला प्रशासन ने यह फैसला किया है. जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने कहा कि विभागीय अधिकारी एक सप्ताह के भीतर अवैध अतिक्रमण हटवाकर रिपोर्ट करेंगे.

तहसील सदर, हर्रैया एवं भानपुर में चिन्हित 8 बड़े अवैध अतिक्रमण मयपुलिस फोर्स के जाकर हटवाया जायेगा.  उन्होंने कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित अवैध अतिक्रमण हटाओ अभियान में किसी गरीब की झोपड़ी न उजाड़ने के लिए निर्देशित किया है. पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव ने कहा कि बड़े भूमाफिया चिन्हित करके उनके खिलाफ मुकदमा कराया जायेगा तथा जेल भेजा जाएगा.

 जिलाधिकारी ने कहा कि विभागीय अधिकारी स्थानीय थाने से पुलिस बल लेकर अवैध अतिक्रमण हटवायेंगे. अवैध अतिक्रमण हटने के तत्काल बाद कब्जा प्राप्ति की कार्यवाही की जायेंगी ताकि पुनः अतिक्रमण न हो सकें. सभी नगर पंचायते सम्पत्ति रजिस्टर के अनुसार सार्वजनिक भूमि, तालाब का चिन्हॉकन करेंगे. तालाब पर अवैध अतिक्रमण, बने मकान जे.सी.बी. लगाकर हटाये जायेंगे.

उन्होंने नवगठित नगर पंचायतों के अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित किया है कि पूर्व के प्रधान से सम्पर्क कर सम्पत्ति रजिस्टर तैयार करें. आने वाले समय में खाली भूमि पर शासकीय परियोजनाओं का निर्माण कराया जाएगा. उन्होंने कहा कि अवैध अतिक्रमण करने वालों के विरूद्ध लोक सम्पत्ति क्षति निवारण अधिनियम के अन्तर्गत मुकदमा दर्ज कराया जाएगा.

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि कब्जा हटवाने से पूर्व संबंधित विभाग समुचित नोटिस जारी करेंगे. अवैध निर्माण हटाने में जे.सी.बी. का दुरूपयोग नही किया जाएगा. उन्होंने कहा कि भूमाफियाओं से सख्ती से निपटा जाएगा और आवश्यकता पड़ने पर गैंगेस्टर एक्ट भी लगाया जाएगा.

जिलाधिकारी ने विभागवार अवैध अतिक्रमणों की समीक्षा किया. बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के गेट पर बनी सीढी बड़े वाहन के आने-जाने में बाधा उत्पन्न करती है. बीएसए जगदीश शुक्ल ने बताया कि मुख्यालय से पठन-पाठन सामग्री प्राप्त होती है परन्तु गेट पर अवैध कब्जा होने के कारण ट्रक अन्दर नही जा पाता है. उन्होने बताया कि लगभग 60 विद्यालयों की भूमि पर अवैध अतिक्रमण है.

डीएफओ नवीन कुमार ने बताया कि कप्तानगंज एंव हर्रैया में 08 गॉव मे लगभग 1600 हेक्टेयर भूमि का ओर-छोर पता नही चल रहा है. जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि लेखपाल की टीम लगाकर पैमाइश करायी जायेंगी. नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी अखिलेश त्रिपाठी ने बताया कि क्षेत्र के कुछ तालाबो पर मकान एवं व्यवसायिक दुकाने अवैध रूप से बनाये गये है. मा0 उच्चतम न्यायालय के आदेशानुसार तालाब पर सम्पूर्ण अतिक्रमण हटाया जाएगा.

अधिशासी अभियन्ता पीडब्ल्यूडी शुभनारायण ने बताया कि उनकी भूमि पर 7 अवैध अतिक्रमण है, जिस पर 2 मकान बने हुए है. प्रान्तीय खण्ड के सहायक अभियन्ता ने बताया कि विक्रमजोत डाकबंगले में लोगों ने लोहे की गुमटी रख लिया है. सरयू नहर के सहायक अभियन्ता ने बताया कि ग्राम गोडिया में नहर की भूमि पर बाउण्ड्रीवाल बना लिया है.

इसी प्रकार नगर पंचायत बभनान, रूधौली, बनकटी, गायघाट, भानपुर, मुण्डेरवा, गनेशपुर, कप्तानगंज, हर्रैया में अधिशासी अधिकारियों द्वारा अवैध अतिक्रमण की जानकारी दी गयी. नगर बाजार, नगर पंचायत में कोई अवैध अतिक्रमण नही पाया गया है. इसके अलावा जिला पंचायत, विद्युत, पंचायतीराज आदि विभागों के अवैध अतिक्रमण की समीक्षा की गयी.  बैठक का संचालन सीआरओ नीता यादव ने किया. इसमें एडीएम अभय कुमार मिश्र, ज्वाइंट मजिस्टेªट अमृतपाल कौर, एसडीएम सदर आनन्द श्रीनेत, गुलाब चन्द्र, जी.के. झा, बीएसए जगदीश शुक्ला, डीआईओएस डी.एस. यादव, डीपीआरओ एस.एस. सिंह, कृषि अधिकारी मनीष सिंह तथा सभी अधिशासी अधिकारी उपस्थित रहे.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.