Basti News Today: कोविड के नए वैरियंट ओमीक्रोन से बचाव के लिए किया जा रहा आगाह

25

Basti News Today: कोविड के नए वैरियंट ओमीक्रोन से बचाव के लिए किया जा रहा आगाह

हाई रिस्क वाले देशों से आने वाले यात्रियों पर है विशेष नजर बस्ती, कोविड के नए वैरियंट ओमीक्रोन को को देखते हुए, कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करके व टीकाकरण में तेजी लाकर कोविड के नए वैरियंट ओमीक्रोन को भी काबू में लाया जा सकता है। दूसरी लहर के बाद जिस तरह से लोग कोविड प्रोटोकॉल को भूल कर उल्लंघन कर रहे हैं, उससे स्थिति बिगड़ सकती है।

मॉस्क के इस्तेमाल, शारीरिक दूरी बनाए रखकर व भीड़-भाड़ में जाने से परहेज कर कोविड के नए वैरियंट को भी फैलने से रोका जा सकता है। यह कहना है एसीएमओ डॉ. एफ हुसैन का । डॉ. हुसैन का कहना है कि फिलहाल यहां पर नए वैरियंट का कोई केस नहीं है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग की अपनी ओर से तैयारियां पूरी हैं। विदेश से विशेषकर हाई रिस्क वाले देशों से आने वालों व उनके संपर्क में आए लोगों की आरटीपीसीआर जांच कराई जा रही है। इलाज के लिए एल-वन अस्पताल से लेकर मेडिकल कॉलेज बस्ती तक में पूरी व्यवस्था है और व वहां पर प्रशिक्षित स्टॉफ की तैनाती भी है। अगर आम लोग एक बार फिर कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना शुरू कर दें तो नए वैरियंट के किसी भी तरह के फैलाव को रोका जा सकता है।

उन्होंने कहा कि कोविड टीकाकरण में तेजी लाकर भी नए वैरियंट को रोकने में मदद मिलेगी। अल्फा, बीटा व डेल्टा पर काबू पाने के बाद स्वास्थ्य विभाग अब कोविड के नए वैरियंट ओमीक्रोन को लेकर एक बार फिर अलर्ट है। हाई रिस्क वाले देशों से आने वाले यात्रियों की कोविड जांच की जा रही है। सैम्पलिंग में तेजी लाते हुए रेलवे व बस से आने वाले यात्रियों की जांच में तेजी लाई गई है। टीकाकरण से ओमीक्रोन वेरियंट के बचाव को लेकर तमाम चर्चाओं के बीच चिकित्सक इस बात को लेकर एकमत हैं कि टीका लगा होने से शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, जो हर प्रकार के वायरस से लड़ने में मददगार साबित होती है। कोविड से बुजुर्गो को सुरक्षित बनाने को लेकर इन दिनों बुजुर्गो के टीकाकरण पर ज्यादा जोर है।