Ballia News today : 40 किमी दूर परीक्षा देंगे छह विद्यालयों के छात्र

87

Ballia News | Harraiya Times

बोर्ड परीक्षा को संपन्न कराने के लिए इस बार जिले में पिछली बार की अपेक्षा 46 परीक्षा केंद्र कम बनाए गए हैं। जिला परीक्षा समिति की ओर से परीक्षा केंद्रों का निर्धारण कर बोर्ड को भेज दिया गया है।

इससे एक परीक्षा केंद्रों पर एक और डेढ़ हजार से ज्यादा छात्र आवंटित किए गए हैं। इसके साथ ही कई विद्यालयों के परीक्षा केंद्र 40 किमी तक दूर बन गए हैं। इससे विद्यार्थियों को परेशानी होनी तय है। वर्ष 2023 की परीक्षा के लिए जनपदीय समिति द्वारा 168 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इन परीक्षा केंद्रों पर 1.59 लाख परीक्षार्थी परीक्षा देंगे।

परीक्षा केंद्र के निर्धारण में शिक्षा विभाग की एक न चली है। सभी केंद्र उपजिलाधिकारियों की रिपोर्ट पर बनाए गए हैं। कुछ दिन पूर्व बोर्ड की ओर से ऑनलाइन 214 परीक्षा केंद्रों का निर्धारण किया गया था। ऑनलाइन बने 214 परीक्षा केंद्रों में से एसडीएम की रिपोर्ट पर 46 परीक्षा केंद्र कम कर दिए गए। प्रस्तावित एक भी नए केंद्र नहीं बने हैं। नगरा क्षेत्र में इस बार सिर्फ सात परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। सुभावती देवी इंटर कालेज भगमलपुर, जनता इंटर कालेज नगरा, राजाराम सिंह इंटर कालेज सिसवारकला, राम अशीष इंटर कालेज सिसवारकला, बाबा बलदेव इंटर कालेज ताड़ीबड़ागांव और गांधी महाविद्यालय मलय नगर मलप, बृजेश इंटर कालेज रुपवार भगवानपुर को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। इस बार भी नकल विहीन परीक्षा कराना टेढी खीर साबित होगा। फुलेहरा स्मारक बालिका इंटर कालेज रसड़ा में 1608, बृजेश इंटर कालेज रुपवार भगवानपुर में 1155, जनता इंटर कालेज नगरा में 1300, गांधी महाविद्यालय मलप में 1004, रामकरन इंटर कालेज भीमपुरा में 1799, संतपुष्पा इंटर कालेज जमुआंव में 1427, डीआईआरसी पशुहारी में 1534, सुभावती देवी इंटर कालेज भगमलपुर में 1229, पीएमआईसी महराजपुर अवराईकला में 1108 परीक्षार्थी आवंटित किए गए है।

इस बार जिले के छह विद्यालयों के छात्र 40 किमी दूर परीक्षा देने जाएंगे। मोहम्मद शहबान मेमोरियल इंटर कालेज नगरा, राजाराम सिंह इंटर कालेज सिसवार, बरसानी देवी आईसी गोठवां, वीरांगना लक्ष्मीबाई उमा विद्यालय ढेंकवारी, नवी रुसूल इंटर कालेज विश्वनाथपुर, रामजी रुद्रजी पब्लिक इंटर कालेज रेकुआं के छात्रों का परीक्षा केंद्र 40 किमी दूर आरडीआईसी जोगापुर बुढऊ बलिया को बनाया गया है। नियमों के अनुसार आठ किमी के अंदर ही परीक्षा केंद्र का निर्धारण होना चाहिए। हालांकि इन विद्यालयों के प्रधानाचार्यों ने बोर्ड को आपत्ति भेजी है।

Note : This story is auto-generated from a syndicated feed. Harraiya Times holds no responsibility for its content.