Babhnan crime News : बभनान रेलवे स्टेशन के समीप मिला गार्ड का शव

0 336

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

A Guard dead Body found Near Babhnan Railway Station

📍Babhnan | Harraiya Times News Service

  • हर्रैया के पूरे अवधी गांव का रहने वाला है मृतक

बभनान रेलवे स्टेशन के पश्चिमी छोर के समीप एक अधेड़ का शव गड्ढे में उतराता मिला। पुलिस ने गड्ढे में जिस स्थान से शव बरामद किया गया वहां कमर भर पानी था। मृतक की पहचान हर्रैया के पूरे अवधी गांव निवासी हरिश्चंद्र के रूप में हुई। वह दो माह पहले ही रोजगार की तलाश में मुंबई गए थे और गार्ड की नौकरी करते थे।

कैसे चला पता?


पुलिस की छानबीन में सामने आया कि हरिश्चंद्र किसी ट्रेन से बभनान रेलवे स्टेशन पर सुबह करीब साढ़े दस बजे पहुंचे। शौच के लिए रेलवे स्टेशन के पश्चिमी छोर के समीप एक गड्ढे के पास गए। वहां मौजूद बकरी चराने वाले बच्चों से अपनी अटैची आदि सामानों को देखते रहने की बात कर झाड़ियों के बीच चले गए। काफी देर तक जब वह वापस नहीं आए तो बकरी चराने वाले बच्चे उनकी तलाश में झाड़ियों में करने लगे। देखा कि झाड़ी के समीप ही गड्ढे में शव उतरा रहा था। बच्चों की शोरगुल पर वहां स्थानीय लोग भी पहुंच गए और घटना की सूचना गोंडा जिले के छपिया पुलिस को दी। मौके पर पहुंचे छपिया थाना के बभनान चौकी प्रभारी कन्हैया दीक्षित शव को गड्ढे से बाहर निकलवा कर जामा तलाशी ली। एक डायरी व आधार कार्ड मिला।

हर्रैया थाना क्षेत्र के अटवा गांव निवासी

आधार कार्ड से पहचान हर्रैया थाना क्षेत्र के अटवा गांव निवासी 55 वर्षीय हरिश्चंद्र के रूप में हुई। बाद में पुलिस ने मृतक के परिजनों को सूचना दी। मौके पर परिजनों ने भी पहचान की। बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए गोंडा भेजा गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारण का पता चल पाएगा। परिजनों ने बताया कि मुंबई में किसी कंपनी में सिक्योरिटी गार्ड हरिश्चंद्र कोरोना की दूसरी लहर में घर आ गए थे। जून महीने में वह रोजगार की तलाश में फिर मुंबई गए मगर काम नहीं मिला तो 15 अगस्त रात को गांव लिए निकले थे। सूचना पर मृतक के भाई विजय सिंह व भोलू भी गोंडा पहुंच गए है।

Babhnan crime News Overview

कंटेंटन्यूज़
स्थानबभनान रेलवे के समीप
थाना हरैया
गांव अटवा , पूरे अवधी
स्रोत अमर उजाला

Get real time updates directly on you device, subscribe now.